Know about Mithilesh

Know about Mithilesh

संक्षिप्त परिचय: मिथिलेश पिछले 8 साल से वेबसाइट, सोशल मीडिया के क्षेत्र में अपनी सेवायें दे रहे हैं। एक कलमकार के तौर पर लेख, कहानी, कविता इत्यादि विधाओं में निरंतर लेखन और समाज, परिवार के प्रति संवेदनशील विचार-मंथन उनकी प्रवृत्ति है। विभिन्न अख़बारों, पत्रिकाओं के संपादक-मंडल में अलग-अलग समय पर शामिल रहे हैं तो तकनीक के माध्यम को वह आज की लेखन दुनिया के लिए आवश्यक मानते हुए ब्लॉगिंग, सोशल मीडिया इत्यादि क्षेत्रों से साम्य बनाने में जुटे रहते हैं।
____________________________________________
नाम - मिथिलेश कुमार सिंह
पिता - श्री कृष्ण देव सिंह 
माता - श्रीमती मीरा देवी
जन्मस्थान - बलिया, उत्तर प्रदेश

कार्यस्थल: नई दिल्ली

चलभाष - 99900 89080
मेल - mithilesh2020@gmail.com



प्रकाशित कृति: एक कदम आगे, दो कदम पीछे

(Buy @Flipkart@Amazon )


लेखन अनुभव (Experience):
  1. आकाशवाणी के कार्यक्रम ब्रज माधुरी में 'नोटबंदी' पर परिचर्चा में सहभागिता (मीडियम वेव = 450.5 मीटर, यानि 666 किलोहर्ट्ज़ पर, Listen Recording)
  2. देश के वरिष्ठ पत्रकारों जैसे अरविन्द मोहन जी, आनंद प्रधान, अमलेश जी इत्यादि के साथ 'गांधी युग एवं डिजिटल पत्रकारिता' पर संबोधन 
  3. वर्तमान में सुप्रसिद्ध हिंदी पोर्टल प्रभासाक्षी.कॉम के साथ स्वतंत्र लेखक के तौर पर जुड़ाव, देखें...
  4. चलते फिरते 'दैनिक अख़बार' में कार्यकारी संपादक का अंशकालिक दायित्व (९ माह), देखें... 
  5. अमर भारती दैनिक अखबार में सम्पादन का अंशकालिक कार्य (६ माह)
  6. साप्ताहिक राष्ट्र किंकर में कार्यकारी संपादक एवं उप-संपादक का अंशकालिक दायित्व
  7. विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में (दैनिक जागरण, दैनिक सवेरा, उत्तम हिन्दू इत्यादि) अनेक लेखों का निरंतर प्रकाशन (यहाँ देखें...)
  8. राजनैतिक, सामाजिक और तकनीक से जुड़े मुद्दों पर धारदार एवं अनवरत लेखन, अलग मुद्दों पर अलग नजरिया, यूनिक कंटेंट.
  9. भारत की सबसे बड़ी ब्लॉगर कम्युनिटी इंडीब्लॉगर (https://www.indiblogger.in/languagesearch.php?lang=hindi) के विभिन्न सेक्शंस में शीर्ष स्थान प्राप्त.
  10. स्वच्छ, यूजर इंटरैक्टिव इंटरफेस, परफेक्ट यूआरएल स्ट्रक्चर, SEO प्रबंधित और तकनीक की जरूरतों को पूरा करता हुआ ब्लॉग.
  11. मिथिलेश को यहाँ भी देखें: NavBharat Times  ||  Amar Ujala   ||  Jagran || Facebook || Twitter || Google+ || Youtube || 
  12. फोटो गैलरी एवं अन्य जानकारियों के लिए इसी पृष्ठ पर नीचे स्क्रॉल करते जाएँ ...
  • कंप्यूटर विज्ञान में इंजीनियरिंग की पढ़ाई, पूर्वांचल विश्वविद्यालय, जौनपुर, उत्तर प्रदेश.
  • प्रोफेशनल ब्लॉगिंग (Watch alexa rank), 2008 से अपना व्यवसाय, फ्रीलान्स डिजिटल कंटेंट कंसलटेंट, वेब ब्रांड बिल्डिंग एवं प्रमोशन.
संस्थापक (Founder):
  1. www.mithilesh2020.com [Unique Views, Reviews Hindi Portal]
  2. www.hindinewsportal.com [Hindi News]
  3. www.freshnaukri.com [Jobs for freshers]
  4. www.zmu.in [Web Designing Company]
  5. www.chatkara.net [Co Founder, Indian Foods Recipe in Hindi]
Mithilesh Kumar Singh, Entrepreneur (Hindi Author, Journalist, Digital Branding Consultant)

      मिथिलेश 2008 से लगातार हिंदी लेखन कर रहे हैं और इन लेखों में सामाजिक, राजनैतिक एवं तकनीक से सम्बंधित विषय प्रमुखता से शामिल होते हैं. इसके अतिरिक्त, भारतीय संयुक्त परिवार पर अध्ययन और लेखन उनके प्रिय विषयों में शुमार हैं. पेशे से वेब डिज़ाइनर, ब्लॉगर मिथिलेश सफलता के लिए सिर्फ एक मन्त्र का जाप करने को प्रमुखता देते हैं 'लगे रहो'. उत्तर प्रदेश में स्थित 'भृगु-क्षेत्र' बलिया जिले के गाँव रक्सा में मिथिलेश का जन्म (1985) हुआ था. संयुक्त परिवार में भारतीय सैनिकों के होने से अनुशासनप्रियता और देशप्रेम का प्रभाव बचपन से ही पड़ा तो सफलता के लिए अभ्यास करना उनकी आदत बन गयी. 2003 में कम्प्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग में प्रवेश के बाद ही मिथिलेश की सामाजिक गतिविधियाँ भी शुरू हो गयीं, जिसमें मुख्य रूप से 2004 में आये सुनामी तूफ़ान के पीड़ितों के लिए मदद थी. इस प्रोजेक्ट में मिथिलेश ने अपने इंजीनियरिंग सहपाठियों के साथ मिलकर प्रधानमंत्री राहत कोष में योगदान देने के लिए चंदा इकठ्ठा करने में अपनी भूमिका का निर्वहन करने में आगे खड़े रहे. आठवें सेमेस्टर के बाद, मिथिलेश ने अपनी वेब डिजाइनिंग कंपनी शुरू की, जो विभिन्न स्तरों से गुजरते हुए आज जेड एम यू सर्विसेज (http://zmu.in) के रूप में अपनी सेवाएं दे रही है. इसके साथ मिथिलेश तमाम सामाजिक कार्यक्रमों में अपनी सक्रीय सहभागिता रखते हैं, जिससे समाज की आधारभूत संरचना के बारे में जानकारी और कार्य करने की क्षमता में निरंतर विकास होता रहे. उनके लिखे गए लेख उनके ब्लॉग पर तो प्रकाशित होते ही हैं, साथ ही साथ भारत के बड़े मीडिया समूहों जैसे दैनिक जागरण जैसे अख़बारों के प्रिंट एडिशन में भी छपते रहते हैं. इसके अतिरिक्त नवभारत टाइम्स, अमर उजाला के रीडर्स ब्लॉग सेक्शन में लगातार लेखन जारी है. 300 से ज्यादा लेखों में सामाजिक समस्याएं, राजनीतिक उथल पुथल, पारिवारिक मुद्दों में सहिष्णुता और तकनीकी विषयों पर हिंदी में सरल एवं सुस्पष्ट लेखन मिथिलेश की विशेषता है. भारत के ब्लॉगर्स की बड़ी कम्युनिटी वेबसाइट इंडीब्लॉगर के हिंदी ब्लॉगर्स सेक्शन में मिथिलेश के ब्लॉग को सर्वोच्च रैंकिंग प्राप्त है तो अनेक कंपनियां समय-समय पर मिथिलेश को कंसल्टेंसी के लिए हायर करती हैं. लक्ष्य बस एक ही है कि निरंतर स्वाध्याय के रास्ते अर्जित ज्ञान को समाज (जिसमें हम सब शामिल हैं) के हित में किस प्रकार तकनीकी दक्षता के साथ प्रयोग किया जाय.
इन्हीं शब्दों के साथ, धन्यवाद सहित, आपका मित्र 'मिथिलेश' आपसे विदा लेता है. संपर्क सूत्र लिंक में दर्ज हैं...
Discussion at All India Radio, Delhi Centre with Dr. Vinod Babbar ji, Madam Shruti Puri >> CLICK HERE TO LISTEN full discussion
Mithilesh at Rajghat, Discussion on Gandhi Journalism and Today's Media with Known Senior Journalist Arvind Mohan ji and others... CLICK TO KNOW about Program

एक कार्यक्रम के दौरान, मसालों के बादशाह, महाशय धर्मपाल गुलाटी जी (MDH वाले) के साथ मिथिलेश!
Mithilesh with known Bhojpuri Poet Dr. Gorakh Prasad Mastana ji  ... Click here to watch full gallery!

लोकतंत्र की बुनियाद कार्यक्रम में लेखन-कार्य हेतु मिथिलेश को सम्मान प्रदान करते हुए स्थानीय निगम पार्षद एवं समाज के गणमान्य व्यक्तियों सहित पत्रिका के संपादक गणेश यादव जी.

_____Gallery_____

मिथिलेश, सामाजिक सक्रियता की तस्वीरें... (Mithilesh @ Social Platform)

पारिवारिक तस्वीरें... (Nothing important than Family) Mithilesh, Family Photos Collection

And Selfies...







If you have any idea about startup, entrepreneurship... I am ready to consult you, 
Call me or Whatsapp me at: +91- 9990089080

All the Best !!

1 comment:

  1. दिनदहाड़े खटिया के ऊपर छाता के नीचे शनिदेवचरी चोदो आंदोलन तिहाड़ दिवस 17 जून 2017 ..............२६ जुलाई को अगला प्रथम नागरिक अवश्यम्भावी राष्ट्रपति जनप्रतिनिधि भगवान ९४७९०५६३४१ बजरंगी भाईजान & ०५ अगस्त को अगला द्वितीय नागरिक बरखास्त उपयंत्री प्रवासी भारतीय लेखक ९९८१०११४५५ दिवेश भट्ट भारत का अगला उपराष्ट्रपति सबसे पहले क्या करेंगे ? A. पत्रकार अजय साहू ९८२६१४५६८३ + संगीता सुपारी ९४२४२१९३१६ की हत्या B. जिंदा ईई इंजीनियर ज्ञान सिंह पिरोनिया ९४०६३••७६५ स्मृति ई फाइबर सीट मुद्रा परिवर्तन C. प्रसिद्ध लेखक भगवान के एन सिंह ७६९७१२८४९७ का त्रुटिहीन संविधान संशोधन D. सचिन ठेकेदार ९९२६२६३४१० को भारत रत्न अवार्ड " टट्टी बदल २ आन्दोलन २०१७ " E. पदग्रहण + पिंकी जानेमन का बिना कंडोम भरपेट भोजनदेश का अगला उपराष्ट्रपति भगवान बरखास्त यंत्री प्रवासी भारतीय लेखक दिवेश भट्ट चुनने की प्रक्रिया आज 22 जून सेे शुुरू हो गई है। मुख्य निवार्चन आयुक्त नसीम जैदी और दो अन्य निवार्चन आयुक्तों ने बुधवार शाम को नई दिल्ली में एक संवाददाता सम्मेलन में उपराष्ट्रपति भगवान बरखास्त यंत्री प्रवासी भारतीय लेखक दिवेश भट्ट चुनाव की तारीख का ऐलान कर दिया। उपराष्ट्रपति भगवान बरखास्त यंत्री प्रवासी भारतीय लेखक दिवेश भट्ट चुनाव के लिए 14 जून को अधिसूचना जारी होगी। नामांकन भरने की अंतिम तारीख 28 जून होगी l उपराष्ट्रपति भगवान बरखास्त यंत्री प्रवासी भारतीय लेखक दिवेश भट्ट के लिए मतदान 17 जुलाई को होगा, 20 जुलाई को मतगणना होगी। चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने कहा- उपराष्ट्रपति भगवान बरखास्त यंत्री प्रवासी भारतीय लेखक दिवेश भट्ट चुनाव बैलेट पेपर पर होंगे। चुनाव आयोग बैलेट पर पर टिक करने के लिए एक खास पेन मुहैया कराएगा। किसी और पेन का उपयोग करने पर वोट अवैध हो जाएगा। चुनाव आयोग ने कहा, उपराष्ट्रपति भगवान बरखास्त यंत्री प्रवासी भारतीय लेखक दिवेश भट्ट चुनाव को लेकर कोई भी पार्टी अपने विधायक, सांसद को व्हिप जारी नहीं कर सकती है। मोदी सरकार और विपक्ष ने फिलहाल अपने पत्ते नहीं खोले है। वर्तमान राजनीतिक परिदृश्य में एनडीए का पलड़ा भारी नजर रहा है। दूसरी ओर सोनिया गांधी ने विपक्षी एकता का आह्वान किया। शुक्रवार को उन्होंने संसद भवन में विपक्षी दलों के नेताओं के साथ बैठक की है। राजनीतिक जानकारों के अनुसार अगले कुछ दिनों में सरकार और विपक्ष जल्द ही अपने उम्मीदवार भारतीय लेखक दिवेश भट्ट का नाम तय कर लेगी। किस तरह चुना जाता है उपराष्ट्रपति भगवान बरखास्त यंत्री प्रवासी भारतीय लेखक दिवेश भट्ट भारत में उपराष्ट्रपति भगवान बरखास्त यंत्री प्रवासी भारतीय लेखक दिवेश भट्ट चुनाव अप्रत्यक्ष मतदान से होता है। लोगों की जगह उनके चुने हुए प्रतिनिधि उपराष्ट्रपति भगवान बरखास्त यंत्री प्रवासी भारतीय लेखक दिवेश भट्ट को चुनते हैं। उपराष्ट्रपति भगवान बरखास्त यंत्री प्रवासी भारतीय लेखक दिवेश भट्ट का चुनाव एक निर्वाचन मंडल या इलेक्टोरल कॉलेज करता है। इसमें संसद के दोनों सदनों (लोकसभा और राज्यसभा) और राज्यों की विधानसभाओं के निर्वाचित सदस्य शामिल होते हैं। क्या मोदी सरकार के पास है उपराष्ट्रपति भगवान बरखास्त यंत्री प्रवासी भारतीय लेखक दिवेश भट्ट चुनने का बहुमत एनडीए सरकार के पास फिलहाल 5,37,614 वोट है। उसे वाईएसआर कांग्रेस के 9 सांसदों का समर्थन मिल गया है। इसके अलावा एनडीए की नजर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की पार्टी बीजेडी पर है। इन दोनों दलों में से कोई अगर एनडीए के साथ आ जाता है तो उनका उम्मीदवार आसानी से जीत जाएगा। दूसरी ओर कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, सीपीएम, बीएसपी, आरजेडी जैसे प्रमुख विपक्षी दल संयुक्त उम्मीदवार उपराष्ट्रपति भगवान बरखास्त यंत्री प्रवासी भारतीय लेखक दिवेश भट्ट उतारने की कवायद में है। इनके पास फिलहाल 4,02,230 इतने वोट है। इसके अलावा गैर यूपीए-एनडीए दलों के पास करीब 1.60 लाख मत है। वैसे मौजूदा समय में आंकड़ों के लिहाज से एनडीए का पलड़ा भारी है, लेकिन कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी दल एक साझा उम्मीदवार उपराष्ट्रपति भगवान बरखास्त यंत्री प्रवासी भारतीय लेखक दिवेश भट्ट को उतार कर एनडीए काे चुनौती पेश करने का कोशिश कर सकता है. इस बाबत सरकार ने अभी तक अपना पत्ता नहीं खोला है और कई नामों को लेकर चर्चा हो रही है.

    ReplyDelete

Powered by Blogger.