नए लेख

6/recent/ticker-posts

Ad Code

ईगो की टकराहट और 'नशाखोरी' का कॉमेडी में क्या काम?

आखिर कैसे होगी 'न्यूज-पोर्टल' से कमाई? देखें वीडियो...


नशा! कहते हैं नशा बहुत ही हानिकारक होता है. ना केवल शरीर के लिए वरन आपकी इज्जत, प्रतिष्ठा और आपके सामाजिक संबंधों के लिए भी! आम आदमी को कौन पूछता है, अगर हम सेलिब्रिटीज की बात करें तो सलमान खान का मुम्बई हिट एंड रन केस उनके नशे में रहने का परिणाम है, वहीं पॉलिटिशियन भगवंत मान ने तो संसद की गरिमा को नष्ट करने के साथ -साथ संसद की सुरक्षा की परवाह किये बगैर बाकायदा वीडियो तक बना डाली. नशे की बात चले और संजय दत्त का नाम ना हो ऐसा हो ही नहीं सकता. हर वक़्त नशे में रहने के कारण इस एक्टर ने भी पब्लिक में बहुत हंगामा किया है और इसी नशे के कारण आज कल मशहूर कॉमेडियन कपिल शर्मा भी चर्चा में बने हुए है.

अपने टीम मेंबर के साथ बदतमीजी के वजह से लोगों को हँसाने वाले कपिल आजकल लोगों के टॉरगेट पर आ गए हैं  ख़बरों के मुताबिक ऑस्ट्रेलिया से अपना शो करके भारत वापस आने के दौरान  कपिल शर्मा ने शराब पी रखी थी और नशे की हालत में सुनील ग्रोवर और चन्दन उर्फ़ 'चन्दू चायवाला' को अपशब्द कहने के साथ ही उनसे हाथापाई भी किया. फिर क्या था यह खबर जंगल के आग की तरह फ़ैल गयी और चारों तरफ कपिल की खिंचाई होने लगी.
हालाँकि शुरू-शुरू में कपिल इस बात पर टाल-मटोल वाला रवैया अपनाते रहे, लेकिन जैसे ही उन्हें मुद्दे की गंभीरता समझ में आयी उन्होंने सोशल मीडिया पर सुनील ग्रोवर से माफ़ी मांग ली. अब सवाल ये उठता है कि कपिल जैसे सुलझे और खुशमिजाज इंसान ने क्या केवल अपने साथी कलाकारों से बदतमीजी इसलिए की होगी कि वो नशे की हालत में थे तो ये कुछ हजम नहीं होता! 

आपको याद होगा कि सोनी से पहले कपिल का शो कलर टीवी पर आता था 'कॉमेडी नाइट्स विद कपिल' के नाम से तभी भी इस शो कि टीआरपी आकाश छूती थी. उस समय में भी शो में एक खास स्थान रखते थे सुनील ग्रोवर 'गुत्थी' के रूप में. भले ही शो की जान कपिल थे मगर गुत्थी की लोकप्रियता कपिल के पैरलल होती थी, तो कभी -कभी कपिल पर हावी भी हो जाती थी. फिर इन दोनों में अनबन की खबर आयी और सुनील कपिल का शो छोड़ कर नया शो लेकर आये 'मैड इन इंडिया'. स्टार प्लस पर यह शो बुरी तरह पिट गया और उधर कपिल के शो की भी टीआरपी लगातार गिर रही थी. खैर बाद में दोनों में समझौता हो गया और एक बार फिर ये दोनों एक साथ काम करने लगे. वैसे तो शो पर कपिल का ही राज है, फिर भी सुनील लोगों में आकर्षण का केंद्र रहते हैं. तो क्या ये पॉपुलैरिटी तो नहीं है आपसी कलह की वजह? अगर ऐसा है तो बेहद गंभीर बात है क्योंकि दोनों कलाकारों ने एक बार पहले भी खुद को आजम लिया है अलग-अलग राहें चुन कर.

The Kapil Sharma Show Controversy, Hindi Article
इन दोनों को समझना चाहिए कि इस शो में लोग कपिल की हाजिर जवाबी तो डॉक्टर गुलाटी की बेबाकी तो चंदू की चाय को एक साथ देखना पसंद करते हैं. इसलिए ये पॉपुलैरिटी किसी एक व्यक्ति विशेष की ना हो कर पूरी टीम की है.
एक अहम् बात ये भी है कि जो टीम को आगे लेकर चलता है उसकी जिम्मेदारियां ज्यादा होती हैं, असफलता का ठीकरा भी उसी सर फूटता है तो सफलता का श्रेय पूरी टीम को जाता है. बावजूद इसके एक लीडर को पूरी टीम भावना का ख्याल रखना चाहिए और अगर कोई गलती हो जाये या कोई सदस्य नाराज है तो बिना लीपापोती किये दिल दे उससे माफ़ी मांग उसे मानाने की कोशिश करनी चाहिए. और बाकि सदस्यों को भी इस बात का ख्याल रखना चाहिए कि आगे चलने वाले पर तमाम दबाव होता है और ऐसे में कोई बंदा अपनी गलती के लिए माफी मांग रहा है तो पिछली बातों को भुला कर अपने काम के प्रति जिम्मेदारी निभाएं.
हालाँकि कपिल शर्मा इस केस में लगातार माफ़ी मांगते दिख रहे हैं मगर सुनील ग्रोवर अभी तक कड़क बने हुए हैं. सोशल मिडिया के ही माध्यम से सुनील ने कपिल के माफ़ी का तंज भरा जवाब दिया है और कहा है कि अपने प्रसिद्धि और प्रतिभा पर ज्यादा गर्व न करते हुए दुसरो का भी सम्मान करना चाहिए और कभी भी गॉड बनने की कोशिस नहीं करनी चाहिए. हालाँकि इस घटना के बाद कपिल शर्मा को अहसास  हो गया होगा कि ऐसी हरकतें उनके स्टारडम को नुकसान पंहुचा सकती हैं. वहीं ये बात सुनील ग्रोवर शायद अभी तक नहीं समझे हैं क्योंकि खबर आ रही है कि वो चन्दन समेत खुद शो कि शूटिंग नहीं कर रहे हैं और ना ही किसी प्रोडक्शन टीम का फ़ोन उठा रहे हैं. खैर हम भगवान से प्रार्थना करेंगे कि कपिल और सुनील अपनी आपसी मतभेद सुलझा कर वापस लोगों का मनोरंजन करें.

ये सिर्फ एक घटना नहीं है बल्कि हम अपने जीवन में भी अक्सर ये रुख अपना लेते हैं काम करते -करते हम टीम भावना से कब ऊपर उठ जाते हैं पता ही नहीं चलता. और फिर ऐसा महसूस करने लगते हैं कि मिलने वाली सारी सफलता सिर्फ और सिर्फ हमारी वजह से है. यह पूरी तरह से गलत है. अगर आप किसी भी टीम में है तो इस सफलता में सबका सहयोग है, कुछ कम कुछ ज्यादा. इसलिए अपने सहयोगियों और सहकर्मियों को उतना ही मान सम्मान दें जितना वो हमे देते हैं, ताकि संतुलन बना रहे और आपका काम-काज प्रभावित ना हो.

एक बात और आज कल की पीढ़ी में नशा करना एक स्टेटस माना जाने लगा है. कुछ लोग नशा शौक से करते हैं तो कुछ लोग आदतन. लेकिन दोनों ही हालत में लोग कुछ ऐसा कर जाते हैं जिसके लिए कई बार उनको शर्मिंदा भी होना पड़ता है. और तो और उनके व्यवसाय पर भी इसका असर पड़ता है. आप पंजाब का उदाहरण ले सकते हैं. नशा वहां की पीढ़ी को ही बर्बाद करने लगा है. इसलिए जितना संभव हो सके नशे से दूरी बनाये रखें, वरना आपको भी कपिल शर्मा वाली स्थिति का सामना करना पड़ सकता है. 


हालाँकि, इस पूरे वाकये के बीच यह भी संभव हो सकता है कि अपने शो की टीआरपी बढ़ाने के लिए यह पूरा ड्रामा रचा गया हो. भाई, फिल्म वाले हैं ऐसे "ड्रामे" कर ही सकते हैं. वैसे ऐसा है तो भी इस समूचे ड्रामे से भी यह सन्देश तो मिलता ही है कि 'घमंड' से दूर रहें तो और भी अच्छा, किन्तु नशे से अवश्य ही दूर रहें. तो फिर हंसते रहें, मुस्कराते रहें और...

- मिथिलेश कुमार सिंह, नई दिल्ली.




The Kapil Sharma Show Controversy, Hindi Article, Comedy Show, Team Player, Kapil Sharma, Sunil Grover, Chandan Prabhakar, Ego, Drunk, Liquor, Drama, Controversial Hindi Articles
मिथिलेश  के अन्य लेखों को यहाँ 'सर्च' करें... (More than 1000 Hindi Articles !!)

Disclaimer: इस पोर्टल / ब्लॉग में मिथिलेश के अपने निजी विचार हैं, जिन्हें पूरे होश-ओ-हवास में तथ्यात्मक ढंग से व्यक्त किया गया है. इसके लिए विभिन्न स्थानों पर होने वाली चर्चा, समाज से प्राप्त अनुभव, प्रिंट मीडिया, इन्टरनेट पर उपलब्ध कंटेंट, तस्वीरों की सहायता ली गयी है. यदि कहीं त्रुटि रह गयी हो, कुछ आपत्तिजनक हो, कॉपीराइट का उल्लंघन हो तो हमें लिखित रूप में सूचित करें, ताकि तथ्यों पर संशोधन हेतु पुनर्विचार किया जा सके. मिथिलेश के प्रत्येक लेख के नीचे 'कमेंट बॉक्स' में आपके द्वारा दी गयी 'प्रतिक्रिया' लेखों की क्वालिटी और बेहतर बनाएगी, ऐसा हमें विश्वास है.
इस लेख से जुड़े सर्वाधिकार इस वेबसाइट के संचालक मिथिलेश के पास सुरक्षित हैं. इस लेख के किसी भी हिस्से को लिखित पूर्वानुमति के बिना प्रकाशित नहीं किया जा सकता. इस लेख या उसके किसी हिस्से को उद्धृत किए जाने पर लेख का लिंक और वेबसाइट का पूरा सन्दर्भ (www.mithilesh2020.com) अवश्य दिया जाए, अन्यथा कड़ी कानूनी कार्रवाई की जा सकती है.

Post a Comment

20 Comments

  1. Enjoyed reading the article above , really explains everything in detail, the article is very interesting and effective. Thank you and good luck for the upcoming articles.

    Review my homepage ➤ 야한소설

    ReplyDelete
  2. I highly appreciate your hard-working skills as the post you published have some great information which is quite beneficial for me 립카페 , I hope you will post more like that in the future.

    ReplyDelete
  3. This is really interesting 마사지 , You’re a very skilled blogger.

    ReplyDelete
  4. I’ve joined your rss feed and look forward to seeking more of your wonderful post. Also, I’ve shared your website in my social networks!

    건전마사지

    ReplyDelete
  5. Thanks for sharing with us this important Content. I feel strongly about it and really enjoyed learning more about this topic.카지노사이트

    ReplyDelete
  6. This was an extremely nice post. Taking a few minutes and actual effort to generate a top notch article.토토

    ReplyDelete
  7. Thank you for sharing this useful article. Keep it up! Regards!바카라사이트

    ReplyDelete
  8. Thanks for sharing this knowledgeable blog with us, truly a great informative site. It is very helpful for us 룰렛

    ReplyDelete
  9. Very great post. I just stumbled upon your weblog and wanted to
    mention that I’ve truly loved surfing around your blog posts.
    In any case I’ll be subscribing in your rss feed and I hope
    you write again very soon 토토사이트 !

    ReplyDelete
  10. When it comes to hiring an essay helper, you should know how they work and how they curate their service. Below are some points which can assignment help you in judging the nature of a service:
    Quick response: Professionals who respond quickly to user queries or concerns are definitely good at helping students.
    Free revisions: People who offers revisions for free are clearly confident about their work. Thus, you can rely on such people to some extent.
    Safety provisions: While placing an order for essay with a website, make sure they provide high-quality content but with absolute safety. Your personal information and payment procedure should be secure.

    ReplyDelete

  11. Once you have a genuine programming assignment help by your side, there is no looking back in the academic life. Some of the perks of having good people to help is that you will get to learn a lot of things with their assistance. You will gain valuable insights in the assignment topic and that is priceless. Obviously, you will never have to rush to meet deadlines as they will take care of it. You will get your desired grades. Along with this, you will not have to empty your pockets. Because java assignment help is available at affordable prices as well.

    ReplyDelete
  12. Nice blog..really like reading through a post that can make people think. Also, many thanks for permitting me to comment! 토토

    ReplyDelete
  13. Do you want someone to pay to do an online class for you? You look at the right place. Helping you achieve good grades, Assignment Help UK delivers quality academic assignment writing help. Many websites are offering cheap class assistance, but not everyone is up to the mark. It makes it easier for the online course helpers, without sacrificing your studies, to focus on essential issues in your life. They don't only want to complete your course. They assist you in increasing your understanding of the subject and how such queries can be answered in the future. Now you can hire someone to take my online class for me.

    ReplyDelete
  14. I have been working as a full-time academic at MyAssignmentHelpNow to help students with their academic writing requirements. We offered online assignment help to the students who are struggling with their academic writing tasks. Our experts possess a good writing and researching skills and thus we are able to provide the best supervision to the students.

    ReplyDelete
Emoji
(y)
:)
:(
hihi
:-)
:D
=D
:-d
;(
;-(
@-)
:P
:o
:>)
(o)
:p
(p)
:-s
(m)
8-)
:-t
:-b
b-(
:-#
=p~
x-)
(k)