... तो क्या वाकई 'खेल-राजनीति' का शिकार हुए हैं 'नरसिंह यादव'! Narsingh Yadav news, rio olympics 2016 schedule, dope test, Wrestler Susheel kumar, Conspiracy in Sports, Sports Politics



अब इसे संयोग कहिये या कुछ और कि मात्र कुछ ही दिनों पहले खेल-राजनीति पर 'साला ख़डूस' मूवी आयी थी और आर. माधवन अभिनीत इस फिल्म में बेहद साफ़ तौर पर दिखाया गया था कि जब बेहतरीन खिलाड़ी के खिलाफ खेल-प्रशासकों की कोई राजनीति काम नहीं आती है, तब उसे 'डोपिंग-टेस्ट' में फेल करनी की धमकी दी जाती है. वैसे इस वाकये का पहलवान नरसिंह यादव से कोई सीधा सम्बन्ध नहीं है, जिनका ओलिंपिक में जाना निश्चित था, किन्तु अंतिम समय वह ‪डोपिंग‬ में फेल हो गए हैं. पिछले कुछ दिनों से नरसिंह यादव तब काफी चर्चित हुए थे, जब एक और मशहूर पहलवान सुशील ने उनके ओलिंपिक जाने के दावे (Narsingh Yadav news, rio olympics 2016) को अदालत के भीतर चुनौती दी और तब मीडिया में भी इस वाकये की खूब सुर्खियां बनी थीं. अब जब नरसिंह यादव प्रतिबंधित दवा लेने के आरोप में पॉजिटव पाए गए हैं, तब कई लोग पिछली कड़ियों को जोड़कर अलग-अलग निष्कर्ष निकाल रहे हैं, जो काफी हद तक स्वाभाविक भी है. खेल राजनीति हमारे देश में कोई नयी नहीं है और इस पर 'साला खडूस' ही क्यों, कई सार्थक फिल्में बन चुकी हैं. खिलाड़ियों को हज़ार तरह की मुसीबतें और चाटुकारिता झेलनी पड़ती हैं, अलग-अलग लॉबियां अपने-अपने दांव चलती हैं और अंत में इन सभी से पार पाकर कोई खिलाड़ी देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका हासिल कर पाता है. 

इसे भी पढ़ें:  एक और सिर्फ एक 'मोहम्म्द अली'! 

Narsingh Yadav news, rio olympics 2016 schedule, dope test, Wrestler Susheel kumar, Conspiracy in Sports, Sports Politics
पहलवान नरसिंह यादव के मामले में कुछेक ऐसी बातें जरूर दिख रही हैं, जो गहरे तक संदेह पैदा करती हैं और बेशक इसके लिए कितनी भी बड़ी जांच करनी पड़े, उसे करना चाहिए ताकि सच्चाई सामने आ सके और आने वाले समय में खिलाड़ियों के साथ-साथ देश के मान-सम्मान को भी नीचा न देखना पड़े. नरसिंह यादव ने अपनी ऑफिशियल शिकायत में कहा है कि उनके साथ साज़िश हुई है. नरसिंह यादव ने इसमें एक महिला और एक खिलाड़ी का नाम भी लिया है, जिससे मामला काफी गंभीर हो जाता है. हालाँकि, कहने को तो कोई भी इस मामले पर राय जाहिर कर सकता है कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों को सावधानी से अपनी तैयारियां करनी चाहिए, किन्तु सवाल वही है कि कई बार स्थिति खिलाड़ियों की पहुँच से काफी बाहर होती है और उन्हें संस्थाओं पर भरोसा करना ही पड़ता है. नरसिंह यादव (Narsingh Yadav news, rio olympics 2016) के साथ जिस तरह भारतीय कुश्ती महासंघ खड़ा है, उससे इस खिलाड़ी के पाक-साफ़ रिकॉर्ड का पता चलता है. भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्लूएफ़आई) ने साफ़ कहा है कि डोप टेस्ट में पॉज़िटिव पाए गए पहलवान नरसिंह यादव के साथ नाइंसाफ़ी हुई है. डब्लूएफ़आई के अध्यक्ष और भाजपा सांसद ब्रजभूषण सिंह ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि नरसिंह यादव बेक़सूर हैं. सिंह ने आगे यह भी कहा कि नरसिंह यादव अब तक क़रीब 50 राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भाग ले चुके हैं और वह डोप टेस्ट के लिए हमेशा तैयार रहते हैं, इसलिए संघ अपने पहलवान के साथ है और वह उन्हें संरक्षण देगा. 

इसे भी पढ़ें: भारतीय जिम्नास्टिक्स की नयी सनसनी दीपा कर्माकर

Narsingh Yadav news, rio olympics 2016 schedule, dope test, Wrestler Susheel kumar, Conspiracy in Sports, Sports Politics
जाहिर है, एक खिलाड़ी के रूप में नरसिंह के चरित्र पर रत्ती भर भी दाग नहीं है. इसके आगे की कड़ियों को जब हम जोड़ते हैं, तब और भी संदेह उत्पन्न होता है. गौरतलब है कि हरियाणा के सोनीपत में कुश्ती का हब बनाया गया है. इसे पहलवान पसंद भी करते हैं, तो वहां हर तरह के प्रशिक्षक रहते हैं. इसी वजह से नरसिंह भी रह रहे थे. पर मामला यहाँ गंभीर हो जाता है क्योंकि ब्रजभूषण सिंह के अनुसार हरियाणा पुलिस ने नरसिंह पर ख़तरे की आशंका जताई थी. इसे देखते हुए स्पोर्ट्स ऑथोरिटी ऑफ़ इंडिया (साई) के डीजी ने नरसिंह को कहीं और प्रशिक्षण की इजाज़त देने की बात कही थी, लेकिन नरसिंह ने इससे इनकार कर दिया. डब्लूएफ़आई के प्रमुख ने इस सम्बन्ध में कहा कि अब लगता है कि साई के डीजी की रिपोर्ट सही थी. इसी क्रम में कहा गया है कि एक महीने में तीन बार किसी खिलाड़ी का डोप टेस्ट होना (Narsingh Yadav news, rio olympics 2016) संदेह पैदा करता है. एक अन्य खबर के अनुसार, साई के ट्रेनिंग सेंटर से जुड़े सूत्र भी इशारा करते हैं कि कुछ दिन पहले भी पहलवान नरसिंह यादव के भोजन की सब्जी पर सफेद पाउडर सा कुछ छिड़का हुआ था. लेकिन तब नरसिंह और उसके साथी ने सब्जी खाई नहीं बल्कि फेंक दी थी.

मियाँ नवाज, आपकी 'कश्मीरी-हसरत' पाकिस्तान को कई टुकड़ों में बाँट देगी... !!

ऐसे में सवाल उठता ही है कि आखिर कोई कितने दिन तक एक ही कैम्प में बच सकता है, जब अंदर के लोग ही ऐसी साजिश में जुटे हुए हों! इस मामले में सुशील पहलवान की लॉबी पर भी सवाल उठे हैं, किन्तु उनके जैसा बड़े दिल का खिलाड़ी ऐसी हरकत के बारे में सोच भी नहीं सकता है और वैसे भी ओलंपिक में भाग लेने वाले खिलाड़ी का नाम बदलने की अंतिम तारीख़ 18 जुलाई थी, जो बीत चुकी है. हालाँकि, जब नरसिंह यादव के डोप टेस्ट का रिजल्ट पॉजिटिव आया था, तब सुशील ने एक व्यंग्यात्मक-ट्वीट जरूर किया जिससे वह सोशल मीडिया पर निशाने पर आ गए. हालाँकि, उन्होंने एक दिन बाद अपनी गलती सुधार ली और अब सुशील कुमार साथी पहलवानों के समर्थन में सामने आए हैं. 

इसे भी पढ़ें:  फुटबाल के रूप में भारत के पास बेहतर मौका!

Narsingh Yadav news, rio olympics 2016 schedule, dope test, Wrestler Susheel kumar, Conspiracy in Sports, Sports Politics
खैर, इस मामले में सरकार की सक्रियता जरूर काबिल-ए-तारीफ़ है, क्योंकि इस सम्बन्ध में समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक विजय गोयल ने कहा है कि नरसिंह यादव को अस्थायी तौर पर निलंबित किया गया है और अगर नेशनल एंटी डोपिंग एजेंसी का पैनल उन्हें दोषमुक्त करार देता है तो वे रियो ओलंपिक में हिस्सा ले सकते हैं. इसके साथ-साथ खेलमंत्री विजय गोयल ने ये भी कहा है कि वे वर्ल्ड एंटी डोपिंग कोड के प्रति पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं, लेकिन नरसिंह के रियो ओलंपिक में हिस्सा लेने पर फ़ैसला जांच पूरी होने के बाद होगा. हालांकि, बाद में आयी खबरों के अनुसार खेल मंत्री विजय गोयल ने कहा है कि डोपिंग के आरोपों में फंसे नरसिंह पंचम यादव रियो ओलंपिक में हिस्सा लेने नहीं जाएंगे. अब नयी स्थिति में नरसिंह यादव पर अस्थायी निलंबन होने से ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व 119 खिलाड़ी करेंगे.


नरसिंह यादव प्रकरण से सीख लेकर इन 119 खिलाड़ियों को भी अपना रियो सफर बेहद सावधानी से आगे बढ़ाना होगा, अन्यथा जब देश में ही ऐसी साजिश की बात सामने आ रही है तो फिर विदेश में क्या नहीं हो सकता है. इस पूरे मामले को पीएमओ की ओर से भी काफी गंभीरता से लिया गया है और सम्बंधित अथॉरिटी से पूरी रिपोर्ट तलब की गयी है. इस पूरे वाकये से सबसे ज्यादा निराशा तो भारतीय प्रशंसकों को ही हुई है, क्योंकि सुशील कुमार तो पहले ही दो ओलंपिक्स में पदक ला चुके हैं और जब उनके ऊपर नरसिंह यादव को वरीयता मिली (Narsingh Yadav news, rio olympics 2016) तब भारतीय प्रशंसकों को उम्मीद थी कि 74 किलोग्राम वर्ग में भारत को एक पदक जरूर मिलेगा. देखा जाय, तो विश्व भर में डोपिंग के कई मामले सामने आ रहे हैं और रूस का तो बहुत बड़ा दल ओलिंपिक जाने से इसी मामले के कारण प्रतिबंधित कर दिया गया है. हालाँकि, भारत को इस मामले में झटका मिलना, वह भी साजिशन बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है और इस मामले की लीपापोती नहीं की जानी चाहिए, बल्कि जो भी दोषी हो उसको सामने लाया जाना चाहिए, ताकि भविष्य में इस तरह की घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो सके!

- मिथिलेश कुमार सिंहनई दिल्ली.



यदि लेख पसंद आया तो 'Follow & Like' please...





ऑनलाइन खरीददारी से पहले किसी भी सामान की 'तुलना' जरूर करें 
(Type & Search any product) ...


Narsingh Yadav news, rio olympics 2016 schedule, dope test, Wrestler Susheel kumar, Conspiracy in Sports, Sports Politics, sports, politics, vijay goel, pmo, New hindi article on wrestling, Breaking news hindi articles, latest news articles in hindi, Indian Politics, articles for magazines and Newspapers, Hindi Lekh, Hire a Hindi Writer, content writer in Hindi, Hindi Lekhak Patrakar, How to write a Hindi Article, top article website, best hindi articles blog, Indian Hindi blogger, Hindi website, technical hindi writer, Hindi author, Top Blog in India, Hindi news portal articles, publish hindi article free

मिथिलेश  के अन्य लेखों को यहाँ 'सर्च' करें...
(
More than 1000 Hindi Articles !!)

No comments

Powered by Blogger.